How to Open Demat Account in Hindi (डीमैट खाता कहाँ और कैसे खोलें):-

इस Blog में हम देखेंगे की डीमैट खाता कहाँ और कैसे खोलें (How to Open Demat Account in Hindi) और Demat Account खोलते वक़्त लगने वाले Document (दस्तावेज).

वैसे देखा जाये तो आजकल Demat Account १० min में खुल जाता है Discount Brokers से जैसे की Zerodha, Angel Broking, 5Paisa और Upstox जैसे कई सारे Discount Broker है

तो मै चाहूंगा की आप Discount Brokers के साथ ही अपना Demat Account खोले Discount Brokers के साथ कई सारे फायदे आपको मिलते है

लेकिन आप Discount Brokers चुनते वक़्त आपको बोहोत सारी चीजों का ध्यान रखना पड़ता है जैसे की जो आप Discount Brokers चुन रहे है

वो आपसे ब्रोकरेज कितना ले रही है वो कंपनी अपने customer को किस तरह Support देती है उनके App और Website Interface कैसा है

इसी तरह बोहोत सारी चीजों का ध्यान आपको Discount Brokers चुनते वक़्त का ध्यान रखना पड़ता है

आप Discount Brokers से Demat Account Online (ऑनलाइन) या Offline (ऑफ लाइन) दोनों तरीके से खोल सकते हो

जब आप Online (ऑनलाइन) Demat Account खोलते हो तब आप उस Broker की Website पर जाकर तुरंत खोल सकते हो

अगर आप Offline (ऑफ लाइन) Demat Account खोलते हो तब भी आपको वेबसाइट पर जाकर उनके फॉर्म डाउनलोड करके उनके ऑफिस में पोस्ट करना होता है.

Requirement to open Demat Account (डिमेट खाता खोलने संबंधीत जानकारी) :-

आपको Share Market (शेअर बाज़ार) में प्रवेश करना हो तो पहले आपको Demat Account (डिमेट अकाउंट) खोलना होगा। Demat Account (डिमेट अकाउंट) से संबंधीत पूरी जानकारी हमने पिछले पाठ में दी है।

Demat Account (डिमेट अकाउंट) खोलने के लिए नीचे दिए गए दस्तावेज होना जरूरी है।

  • पॅन कार्ड *
  • पासपोर्ट
  • आधार कार्ड (जिस पर आपका Mobiile No लिंक हो.)*
  • ड्रायविंग लायसेंस
  • बैंक खाता *
  • इलेक्ट्रीसिटी या लॅन्ड लाईन टेलीफोन बिल
  • वोटिंग कार्ड

इनमें से कोई भी दो कागजातों का आपके पास होना जरूरी है। एक में आपका | फोटो होना जरूरी है।

इस तरह आप उन कागजातों के साथ फार्म भरकर देंगे तो ३/४ दिनों में आपका डिमेट खाता शुरू हो जाता है।

डिमेट खाता खोलने के बाद आप शेअर खरीदते है तो वो सीधे आपके अकाउंट में जमा हो जाते है और हर महिने आपको Depository Participant (डिपोजिटरी पार्टीसीपेंट) के जरिए उसका स्टेटमेंट आता है।

आपको शेअर बेचने है, तो उसके लिए इंस्ट्रक्शन स्लीप बुक (Instruction Slip Book) मिलती है। शेअर बेचने के बाद दुसरे दिन उस स्लीप पर जानकारी लिखकर देनी होती है।

डिमेट खाता खोलने के बाद वो आपको बेनीफिशियरी ओनर्स आयडेंटीफीकेशन नंबर (Beneficial Owner Identification Number) BOIN देते है।

जब आप शअर बेचोगे तब आपके इंस्ट्रक्शन स्लीप में यह नंबर दर्ज करना पड़ता है।

Requirement to open Trading Account (ट्रेडिंग अकाउंट खोलने के लिए जरूरी दस्तावेज और उस अकाउंट की आवश्यकता) :-

Stock Broker (स्टॉक ब्रोकर) यह निवेशक और Stock Market (स्टॉक मार्केट) को जोड़ने का काम करते है।

इस बाज़ार में शेअर का लेन देन शेअर दलाल के जरिए होता है। शेअर दलाल के | बिना आप शेअर बेच नहीं सकते। आप किसी भी SEBI (सेबी) रजिस्टर ब्रोकर के पास अपना रजिस्ट्रेशन कर सकते है।

Demat Account (डिमेट अकाउंट) खोलने के लिए जिन कागजातों की जरूरत होती है, उन्ही की जरूरत यह अकाउंट खोलने के लिए होती है। ठिक उसी तरह Demat Account (डिमेट अकाउंट) होना भी जरूरी होता है।

Points to be considered to select Stock Broker (स्टॉक ब्रोकर का चयन करते समय ध्यान में रखने लायक बातें) :-

  1. उसका ऑफिस आपके घर के नजदीक होगा तो फायदेमंद होता है।
  2. उसकी बाज़ार में अच्छी प्रतिष्ठ होनी चाहिए।
  3. उसका नाम बी.एस.ई और एन.एस.ई दोनों में रजिस्टर होना चाहिए।
  4. उसकी दलाली का भाव हमें पता होना चाहिए।
  5. हम उसे किस प्रकार ऑर्डर दे सकते है यह भी देखना चाहिए उदा. ऑनलाईन अथवा फोन पर। ब्रोकर के पास दोनों सुविधाएं हो तो ज्यादा अच्छा।
  6. आपके दलाल के साथ रजिस्ट्रेशन होने के बाद वो आपको क्लाईन्टस (ग्राहक) कोड नंबर (Clients Code No) देते है।आप जब दलाल से शेअर लेंगे या बेचेंगे तब पहले कोड नंबर देना होगा। उसके बाद खाते के जरिए आपके शेअर की खरीदी या बिक्री होती है।

।। धन्यवाद ।।

Important Links :-

Open Demat & Trading Account in Zerodhahttps://zerodha.com/?c=NH6775

86 / 100
श्रेणी: Share Market

0 टिप्पणियाँ

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

hi_INHindi