Stock Market में Retail Investors, DII (Domestic Institutional Investors), FIIs (Foreign Institutional Investors) और Depository Participant इन शब्दों को हम कई बार सुनते है.

Retail Investors, DIIs और FIIs का क्या मतलब होता है? – What is Retail Investors, DIIs and FIIs in Hindi

तो आज इस Bolg हम इन शब्दों का Meaning समझेंगे और Stock Market में अलग-अलग Typs के कितने Investors होते हैं उनके बारे मे बात करेंगे।

Basically दो Types के Investors होते हैं

  1. Retail Investors
  2. Institutional Investors

What are Retail Investors in Hindi

Retail Investors मतलब Individual जैसे आप और मैं जो अपने लिए या अपने Personal Account के लिए Shares ख़रीदते है।

What are Institutional Investors in Hindi

Institutional Investors मतलब Organization जैसे कि Mutual Funds, Pention Funds, Insurance Company etc.

जो अपने Investment Portfolio के लिए या लोगों के लिए Investment करते है।

Retail Investors के मुकाबले Institutional Investors बड़े Capital के साथ Investment करते हैं। Institutional Investors के पास अपनी खुद की Research Team होती है

तो काफी Deep Research और Analysis के बाद Institutional Investors Buy or Sell Decision लेते है। दो Types के Institutional Investors होते है

Two types of Institutional Investors in Hindi

  1. FII (Foreign Institutional Investors)
  2. DII (Domestic Institutional Investors)

    जो Indian Institutional Investors Indian Financial Markets में Invest करते है उसे DIIs (Domestic Institutional Investors) कहतें है। और दूसरे देश के Investors जो Indian Financial Market में Invest करते है उन्हें FIIs (Foreign Institutional Investors) कहते है।

    India एक Emerging Market है इस लिये FIIs India में Invest करना पसंद करते है। हम कई बार सुनते है की FIIs ने जमकर बिक्री करने की वजह से Stock Market में गिरावट देखने मिली

    या FIIs ने जमकर खरीद दारी करने के वजह से Stock Market में तेज़ी देखने मिली। FIIs बहोत बड़ी-बड़ी Capital के साथ Invest करते हैं

    इसलिए उनके Buying का और Selling का Indian Financial Market पर काफी असर पड़ता हैं।

    इसीलिए Traders FIIs के Activities पर काफी ध्यान देते है। FIIs को indian Financial Market में Invest करने के लिए SEBI जो कि India Capital Market Regulator हैं

    उसके साथ Register होना होता है और अगर किसी Foreign Individual या Firm को Indian Financial Market में Invest करना है

    तो उसे FII के साथ As a sub account register होना होगा उसके बाद FII उस Individual की और से Indian Stock Market में Invest करेंगे

    FIIs के साथ As a sub account register करने के लिए Individual Investors का Net-worth $50 Million(320-330 Crore) के ऊपर होना चाहिए।

    इस Role की वजह से जिन Individual Investors का Net-worth $50 Million से कम था

    वो Indian Financial Market में Invest नही कर पाते थे, तो Indian Government ने 2012 में QFI (Qualified Foreign Investors) का Concept लाया।

    What is QFIs in Hindi (Qualified Foreign Investors)

    QFIs में Investors जिनका Net worth $50 Million से कम है वोभी FIIs के Sub Account Register किए बिना Indian Financial Market में Invest कर सकते हैं।

    लेकिन QFIs के लिए भी कुछ Terms and conditions है।

    QFIs के जरिए सिर्फ वो ही Country के Investors Invest कर सकते है जो कि FATF (Financial Action Task Force) ने निर्धारित किये हुए Anti Money Laundering और Anti Terrorist Financing Guidelines का पालन करती है।

    तो अगर कोई Country FATF ने दिये हुए Guidelines को Follow नही करती है तो उस Country के लोग QFI Root के जरिए Indian Financial Market में Invest नही कर सकते।

    QFIs को Indian Stock Market में Invest करने के लिए किसी Indian Depository Participant के साथ DEMAT और Trading Account खोलना Compulsory है।

    Depository Participant क्या है ?

    अगर आपको DP (Depository Participant) क्या होता है यह आपको पता नही है तो मैं आपको बतादूँ के India में दो Depository है

    Types of Depository Participant in Hindi

    NSDL (National Securities Depository Limited) और CDSL (Central Depository Services Limited) आप जो भी Shares खरीदते हो

    वो Shares इन Depositorys में Electronic Form में Store हो जाते है। लेकिन आप Directly Depositories के साथ DEMAT Account नही खोल सकते.

    उसके लिए आपको Depository Participate के पास जाना होगा जो Depositories के Agents होते हैं। तो जिनके साथ आप DEMAT Account खोलते हो वो Depositories Participants होते है।

    || धन्यवाद ||

    Important Links :-

    Open Demat & Trading Account in Zerodhahttps://zerodha.com/?c=NH6775

    78 / 100

    0 टिप्पणियाँ

    प्रातिक्रिया दे

    आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

    hi_INHindi